बाँदा: महामारी से लाशों में तब्दील होता शहर

उत्तर प्रदेश के बांदा में कोरोना महामारी से लगातार ग्रसित होकर मौत के मुंह में समाते जा रहे हैं। शहर में बने तमाम श्मशान घाट व कबरिश्तानों में लाशों का अंबार लगा हुआ है।

उत्तर प्रदेश के बांदा में कोरोना महामारी से लगातार ग्रसित होकर मौत के मुंह में समाते जा रहे हैं। शहर में बने तमाम श्मशान घाट व कबरिश्तानों में लाशों का अंबार लगा हुआ है। वहां पर इन लाशों को जलाने तक का इंधन उपलब्ध नहीं हो पा रहा है और यहां तक कि महामारी से मरने वालों के परिजन उनका चेहरा देखने के लिए तक तरस रहे हैं।

जनपद में महामारी के चलते इतनी अव्यवस्था फैली हुई है कि लोगों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। यहां पर अस्पतालों में डॉक्टरों के द्वारा अपनी मनमानी चलाने का काम किया जा रहा है। मरीजों के परिजनों को उनसे मिलने तक नही दिया जा रहा है और जब उनकी मौत हो जाती है तब उनके परिजनों को सूचित कर दिया जाता है।

ये भी पढ़े-आज चन्नई का मुकाबला राजस्थान से क्या है आज की प्लेइंग 11, जानें पिच रिपोर्ट मैच प्रेडिक्श

लेकिन उसके बाद भी मृतक का चेहरा उनके परिजनों को नही दिखाया जाता है। इसी को लेकर सुबह से शाम तक डॉक्टरों और परिजनों में विवाद होता रहता है। अगर जनपद में कोरोना से मरने वाले मरीजों की बात करें तो अब तक लगभग 50 लोग मर चुके हैं। लेकिन जिला प्रशासन के आंकड़ों की बात करें तो यहाँ पर सभी आकड़ें छिपाने में लगा हुआ है।

आज शाम जब हमने शहर के शमशानों में जा कर देखा तो वहां पर लाशों को जलाने वाले तक नहीं थे । कुछ लोग वहां मिले तो उनसे जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि यहां पर लाशों का अंबार लगा हुआ है अभी तो इतनी लाशें जल रही हैं उतनी ही लाशें अभी और जलाने के लिए पड़ी हुई हैं। सुबह से तमाम लोगों ने कोरोना से अपना दम तोड़ दिया है।

 

Report-इल्यास खान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button