बाराबंकी : अहमद हत्याकांड में आया ट्विस्ट, पुलिस से सुलझी ‘मैं वो और’ साज़िश की गुत्थी

अपने दूसरे प्रेमी के साथ मिलकर युवती ने पहले प्रेमी को उतारा मौत के घाट

बाराबंकी (उत्तर प्रदेश)। राजधानी लखनऊ से सटे जनपद बाराबंकी पुलिस ने अहमद हत्याकांड का पर्दाफाश करते हुए उसकी प्रेमिका सहित एक अभियुक्त को धर दबोचा पुलिस के अनुसार अवैध संबंध बना अहमद के हत्या का कारण।

तो ऐसे हुआ घटना का खुलासा

फतेहपुर थाना क्षेत्र के चर्चित अहमद हत्याकांड का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक उत्तरी आर एस गौतम ने बताया कि मो. जुबेर ने बीते 8 अक्टूबर को पुलिस को सूचना दी कि उसका भाई मो अहमद वाराणसी में बिस्किट की बेकरी में काम करता है और पांच दिन पहले ही वह घर आया था ।

ये भी पढ़ें – सिम्पैथी से बिहार में जलेगा चिराग या ढह जाएगा वोट बैंक

7 अक्टूबर को रात्रि लगभग 08.30 बजे घर से कस्बे में जाने लिए बता कर गया था लेकिन देर रात तक वापस नहीं आया । रात्रि करीब 09.30 बजे वकील ने मेरे घर आकर बताया कि सुरजा तालाब की तरफ से आ रहा था तो अलाऊद्दी बाग के पास सड़क पर नीलम की बात को लेकर मो अहमद व नसीरूद्दीन उर्फ मिथुन के बीच लड़ाई-झगड़ा हो रहा है।

मौके पर गया तो उस स्थान पर कोई नहीं मिला और गले में तॉत से कसा हुआ शव काजी बाग स्थित धान के खेत में मिला । नीलम व नसीरूद्धीन उर्फ मिथुन पंजीकृत हुआ । प्रभारी निरीक्षक फतेहपुर संजय कुमार मौर्य ने गिरफ्तारी के लिए लगातार पुलिस की कार्रवाई जारी रही और पुलिस ने अभियुक्त नसीरूद्दीन उर्फ मिथुन , नीलम को पटेल चौराहा थाना फतेहपुर से गिरफ्तार कर लिया ।

प्रेम संबंध के चलते गई युवक की जान

घटना का खुलासा करते हुए एएसपी आर एस गौतम ने बताया कि घटना के सम्बन्ध में गिरफ्तार अभियुक्त से पूछताछ से प्रकाश में आया कि मो0 अहमद का प्रेम सम्बन्ध कस्बा फतेहपुर की नीलम से लगभग 5-6 वर्षों से है, जिसकी जानकारी भी आस-पास के लोगों को थी । मो0 अहमद लगभग 03-04 वर्षों से वाराणसी में बिस्किट की बेकरी में काम करने लगा और उसका अपने घर कस्बा फतेहपुर में आना-जाना लगभग एक-डेढ़ माह में होता था । मो0 अहमद जब भी वाराणसी से अपने घर आता था तो नीलम के साथ अक्सर घूमा-फिरा करता था ।

ये भी पढ़ें – हाथरस : ह्यूमन ट्रैफिकिंग का बड़ा मामला, किशोरियों के बंधक बनाया फिर क्या हुआ जानकर रूह कांप जाएगी

इसी बीच नीलम का अवैध सम्बन्ध कस्बा फतेहपुर के नसीरूद्दीन उर्फ मिथुन से हो गया और वह उसके साथ घूमने-फिरने लगी । अक्टूबर माह के प्रारम्भ में मो0 अहमद अपने घर कस्बा फतेहपुर आया तो पहले की तरह नीलम के पास गया तो उसको नसीरूद्दीन के साथ देखने पर लड़ाई-झगड़ा होने लगा । इसके बाद लड़ाई-झगड़ा शांत होने के बाद मृतक व अभियुक्तों के साथ में बैठकर काजीबाग के पास शराब पिये । शराब पीने के बाद मो0 अहमद के नशे में हो जाने पर नसीरूद्दीन और नीलम ने रास्ते से हटाने के लिए तॉत से गला कसकर हत्या कर दी और शव को धान के खेत के पास छोड़ कर भाग गये।

रिपोर्ट -: दीपक सिंह

 

  • हमें फेसबुक पेज को अभी लाइक और फॉलों करें @theupkhabardigitalmedia 

  • ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @theupkhabar पर क्लिक करें।

  • हमारे यूट्यूब चैनल को अभी सब्सक्राइब करें https://www.youtube.com/c/THEUPKHABAR

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button