अमेठी : बेख़ौफ़ दबंगों ने युवक को क्रिकेट बैट और स्टंप से जमकर पीटा, हुई मौत

अमेठी में हत्या की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। एक सप्ताह के भीतर हत्या की चौथी वारदात सामने आई,

अमेठी में हत्या की वारदातें थमने का नाम नहीं ले रही हैं। एक सप्ताह के भीतर हत्या की चौथी वारदात सामने आई, जहाँ खाकी की इकबाल को चुनौती देते हुए बाइक सवार आधा दर्जन बेख़ौफ़ दबंगों ने कोतवाली से चंद कदमों की दूरी पर सरेबाजार युवक को क्रिकेट बैट और स्टंप से जमकर पीटा और युवक को लहूलुहान कर मौके से फरार हो गए।

 

यह भी पढ़ें- गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन तेज होते देख पुलिस ने NH-24 हाईवे को किया बंद

युवक की पिटाई की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुँचे परिजन गंभीर हालत में युवक को लेकर जिला अस्पताल पहुँचे जहां डॉक्टरों ने स्थिति गंभीर देखते हुए युवक को लखनऊ रेफर कर दिया गया जहां अस्पताल पहुँचने से पहले उसकी मौत हो गई।

मामला गौरीगंज कोतवाली क्षेत्र के कस्बे का है जहां कल शाम करीब 4:00 बजे कस्बे का रहने वाला 24 वर्षीय युवक कपिल जायसवाल बस स्टॉप से अपने घर की तरफ जा रहा था तभी पीछे से आए बाइक सवार आधे दर्जन दबंगों ने बीच सड़क पर कपिल की क्रिकेट बैट और स्टंप से पिटाई कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गए।कोतवाली से चंद कदमों की दूरी पर दबंग अपना तांडव मचाते रहे लेकिन पुलिस को भनक तक नहीं लगी।युवक की पिटाई की सूचना जैसे ही परिजनों को लगी तत्काल परिजन मौके पर पहुंचे और गंभीर हालत में युवक को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे जहां प्राथमिक उपचार करने के बाद स्थिति को गंभीर देखते हुए डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर कर दिया जिसके बाद परिजन लखनऊ ले ही जा रहे थे कि अस्पताल पहुँचने के पहले ही कपिल की मौत हो गई।मृतक के पिता की माने तो एक सप्ताह पहले मुसाफिरखाना रोड पर उसके बेटे का नीरज पांडेय नाम के व्यक्ति से विवाद हुआ था जिसके बाद पुलिस और स्थानीय लोगो ने हस्तक्षेप कर मामले को शांत करवा दिया था।बाद में नीरज पांडेय ने धमकी दी थी और उसी ने मेरे बेटे की हत्या करवाई है।

वहीं मृतक के भाई की माने तो वो दुकान पर बैठा था और कस्बे के एक युवक ने आकर जानकारी दी कि उसके भाई को कुछ लोगो ने बैट से पीटा और फरार हो गए।जब हम लोग मौके पर पहुँचे और भाई को लेकर जिला अस्पताल पहुँचे जहा डॉक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद लखनऊ रिफर कर दिया।हम लोग उसे लेकर मेदान्ता गए जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।मेरे भाई का आठ दस दिन पहले मुसाफिरखाना रोड पर स्थित नहर के पास कौहार के रहने वाले नीरज पांडेय से लड़ाई भी हुई थी लेकिन मामला शांत हो गया था आज उसी ने मेरे भाई की हत्या कर दी।जिले के सबसे सुरक्षित इलाके में युवक की दिनदहाड़े हत्या कर दी गई लेकिन पुलिस की तरफ से किसी भी अधिकारी ने अपनी जिम्मेदारी को समझना मुनासिब नही समझा।जिस जगह ये हत्या हुई वहाँ से कोतवाली चंद कदमो की दूरी पर था जबकि डीएम आवास और एसपी आफिस भी महज 200 मीटर दूर है जहां 24 घंटे पुलिस का पहरा रहता है लेकिन सरेबाजार हुई युवक की हत्या से पुलिस प्रसाशन की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े होने लगे है की आखिर लोगों की सुरक्षा का दम भरने वाली खाकी उस वक्त कहाँ थी जब बेख़ौफ़ दबंग सरेराह युवक की बेरहमी से पिटाई कर रहें थे।गौरीगंज सीओ ने बताया कि इस युवक को कुछ लोग आकर पीटने लगे किसी ने उस युवक के ऊपर राड से वार कर दिया जिससे आनन फानन में लोग उसको अस्पताल लेकर गए वहा पहुचने पर डॉक्टरों ने उसको जबाब दे दिया और लखनऊ रेफर कर दिया जहा रास्ते में युवक की मौत हो गयी। युवक का शव देर रात आया उसके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है और मामले की जांच चल रही है।

REPORT-HANSRAJ SINGH

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button