किचन में हमेशा चाकू को इस तरह रखें, वरना कंगाल होते देर नहीं लगेगा

इन दिनों बन रहे आधुनिक घरों की रसोई भी उन्हीं की तरह आधुनिक होती है। मतलब कम जगह में सभी सुविधाओं से युक्त रसोई।

इन दिनों बन रहे आधुनिक घरों की रसोई भी उन्हीं की तरह आधुनिक होती है। मतलब कम जगह में सभी सुविधाओं से युक्त रसोई। माॅर्डन रसोई में जरूरत की सभी चीजें मौजूद तो होती है। उनको रखने का तरीका भले भी डिजानर्स को अच्छा लगे।

आज हम आपको घर और किचन से जुड़े कुछ वास्तु टिप्स बताने जा रहे हैं। ये हर किसी को पता होना चाहिए।

ये भी पढ़ें – यादों में अम्मा : लोगों के दिलों पर राज करने वालीं जयललिता के प्यार की कहानी रह गई थी अधूरी

-चाकू लोगों के घरों में अक्‍सर रसोई में ही रखा जाता है। लेकिन एक बात का ध्‍यान रखें कि चाकू को हमेशा उल्‍टा करके रखें। यानी उसके धार वाले हिस्‍से को नीचे की ओर करके रखें। इससे आप संतान पक्ष से सदैव खुश रहेंगे। ध्‍यान रखें कि घर में कभी भी ऐसे चाकू छुरी नहीं रखने चाहिए, जिनका आप इस्‍तेमाल न करते हों। ऐसा होन से आपके घर में दरिद्रता के साथ ही दांपत्‍य संबंधों में भी कड़वाहट आनी शुरू हो जाती है। घर में आपस में भी किसी के हाथ में चाकू सीधे नहीं पकड़ाना चाहिए।

-घर के मुख्‍य द्वार पर पांवदान कभी भी गंदा नहीं होना चाहिए। उसे रोजाना झाड़ू लगाने के बाद झाड़कर वापस डाल देना चाहिए। उसके आस-पास कूड़ा बिल्‍कुल भी न जमा होने दें। रोजाना ईश्‍वर से अपने घर आगमन की प्रार्थना करनी चाहिए। पांवदान पर किसी तरीके स्‍वास्तिक या फिर अन्‍य कोई भी धर्म से जुड़ा चिह्न नहीं होना चाहिए।

-घर में झाड़ू को मां लक्ष्‍मी का दर्जा दिया जाता है और इसका सीधा संबंध घर की आर्थिक स्थित से होता है। झाड़ू का अनादर करना, टूटी हुई झाड़ू को रखना और झाड़ू से पैर लगाना बहुत ही गलत प्रकार का व्‍यवहार माना जाता है। जो कि सीधे तौर पर वास्‍तु दोष को बताता है। झाड़ू को घर में ऐसे स्‍थान पर रखना चा‍हिए जो सबकी नजरों से दूर रहे। सूर्यास्‍त के वक्‍त कभी भी घर में झाड़ू नहीं लगानी चाहिए। ऐसा करने से दरिद्रता आती है।

  • हमें फेसबुक पेज को अभी लाइक और फॉलों करें @theupkhabardigitalmedia 

  • ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @theupkhabar पर क्लिक करें।

  • हमारे यूट्यूब चैनल को अभी सब्सक्राइब करें https://www.youtube.com/c/THEUPKHABAR

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button