अलीगढ़ : ट्रैफिक पुलिस का अजीब कारनामा, कार में हैलमेट ना पहनने पर काट दिया चालान..

उत्तर प्रदेश की ट्रैफिक पुलिस का अजीब कारनामा सामने आया है जिसने भी सुना हसने मर मजबूर होगया,आपको बतादें अलीगढ़ मैं ट्रैफिक पुलिस की कई बार ऐसी कारस्तानी सामने आती है

उत्तर प्रदेश की ट्रैफिक पुलिस का अजीब कारनामा सामने आया है जिसने भी सुना हसने मर मजबूर होगया,आपको बतादें अलीगढ़ मैं ट्रैफिक पुलिस की कई बार ऐसी कारस्तानी सामने आती है जिससे कि उसका मजाक बन जाता है। पिछले दिनों में कई ऐसी घटना हुई जहां ट्रैफिक पुलिस ने हेलमेट न पहनने पर चार पहिया वाहनों का चालान कर दिया। ऐसा ही एक ताजा मामला अलीगढ़ के बेसिक शिक्षा अधिकारी के सामने आया जब उनके कार्यालय से अटैच एक गाड़ी का ट्रैफिक पुलिस ने चालान कर दिया और कारण बताया कि ड्राइवर हेलमेट पहनकर गाड़ी नहीं चला रहा था। पूरे मामले पर एसपी ट्रैफिक से बात की गई तो उन्होंने बजाय अपने विभाग की गलती मानने के ऐसा तर्क दिया जो खुद उन्हीं पर सवाल खड़े करता है।

ये भी पढ़ें- थाने पहुंची पीड़िता से कोतवाल ने कहा ‘देर लगी आने में तुमको फिर भी आईं तो और…

दरअसल अलीगढ़ के बेसिक शिक्षा अधिकारी लक्ष्मी कांत पांडे के कार्यालय से एक बोलेरो कार अटैच है जिसमें बीएसए जगह-जगह सरकारी कार्य के लिए जाते हैं। उस गाड़ी का चालान ट्रैफिक पुलिस की तरफ से कर दिया गया और कारण बताया कि जो ड्राइवर था उसने हेलमेट नहीं पहना था। इस मसले पर जब बीएसए से बात की गई तो बीएसए ने बताया कि मेरे ड्राइवर के द्वारा बताया गया है कि एक चालान कटा है जिसमें हेलमेट ना होना बताया है। संभवत कोई तकनीकी दिक्कत हो। गाड़ी बोलेरो है। वह अटैचे हमारे कार्यालय से है।इसका चालान हुआ है। हमको इसको दिखवा रहे हैं कि ऐसा कैसे हुआ है।वहीं अलीगढ़ के एसपी ट्रैफिक सतीश चंद्र ने बताया की हमारे यहां मैनुअल चालान बंद हो गए हैं और ई चालान हो रहे हैं। फोटो खींचकर हम चालान करते हैं। तो बहुत से लोगों ने चालान से बचने के लिए अलीगढ़ में बहुत सारे नंबर प्लेट में तब्दीली कर ली है। उसकी वजह से गाड़ी का चालान किसी का होना चाहिए और किसी और का हो जाता है। उसी का परिणाम है कि किसी कार का चालान हुआ है। यह जो मोटरसाइकिल में पंजीकृत हैं। हमारे पास इस तरह के जो भी चालान आते हैं। उनके एप्लीकेशन लेकर रद्द कर देता हूं।

रिपोर्ट-  खालिद अंसारी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button