आखिर क्यूँ देना होगा दिल्ली के 5 स्टार होटल के सैलून को 2 करोड़ रुपये का मुआवजा

राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग ने 5 स्टार होटल के सैलून को मॉडल को दो करोड़ रुपए का मुआवजा देने का आदेश दिया है

राजधानी दिल्ली के एक 5 स्टार होटल के सैलून को एक मॉडल का गलत तरीके से बाल काटने का बड़ा मुआवजा। राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग (एनसीडीआरसी) ने 5 स्टार होटल के सैलून को मॉडल को दो करोड़ रुपए का मुआवजा देने का आदेश दिया है। खबरों की मानें तो ये पता चला है कि सैलून ने ना केवल मॉडल के बालों को गलत तरीके से काटा था बल्कि उसके बाद बालों पर जो ट्रीटमेंट किया था उससे भी मॉडल के बालों को काफी नुकसान पहुंचा और उसके बालों पर कई दुष्प्रभाव देखने को मिले हैं ,उसके बाल झड़ने लगे हैं जिसके चलते उसका मॉडलिंग करियर प्रभावित हुआ है।

इसी कारण एनसीडीआरसी ने 5 स्टार होटल के इस सैलून को ये सजा सुनाई है। आपको बता दें कि सैलून को न केवल राशि का भुगतान करना है बल्कि इसे एक निश्चित सीमित अंतराल के अंदर करना होगा। सैलून को मुआवजे की राशि , जो की 2 करोड़ रुपये हैं उसका भुगतान 8 हफ्ते यानी करीबन दो महीने में करना होगा।

क्या है पूरी घटना-

मॉडल, जिसके साथ ये घटना हुई है उसका नाम आशना रॉय है और ये एक हेयर प्रोडक्ट मॉडल हैं। जो भी जानकारियाँ अब तक प्राप्त हुई है उनके मुताबिक मॉडल आशना रॉय के बाल काफी लंबे , घने और सुंदर थे जिसकी वजह से वो हेयर प्रोडक्ट के लिए मॉडलिंग करती थी साथ ही वो पेशेवर वरिष्ठ प्रबंधन के रूप में एक बड़ी कंपनी में काम भी करती थी। एक हेयर मॉडल होने के नाते वो अपने बालों की कुछ ज़्यादा ही केयर करती थी और इसी सिलसिले में उन्होंने 12 अप्रैल 2018 में एक पाँच सितारा होटल के सैलून को अपने बाल कटवाने और हेयर ट्रीटमेंट करवाने के लिए चुना था। सैलून ने काफी लापरवाही दिखाई और उन्होंने पहले मॉडल का गलत हेयर कट कर दिया था और उसके बाद सैलून ने जिन प्रोडक्ट का इस्तेमाल बाल धोने के लिए किया था उससे मॉडल का काफी हेयर फॉल शुरू हो गया।

इतना ही नहीं इन समस्याओं के बाद जब मॉडल ने इसकी शिकायत की तो सैलून ने मॉडल का हेयर ट्रीटमेंट किया। हेयर ट्रीटमेंट से उनके बाल जल गए और उनके सिर में एलर्जी हो गई। अपने बालों की दुर्दशा से जहां मॉडल परेशान थी वहीं दूसरी ओर बालों की इस बुरी हालत के चलते मॉडल को नौकरी से भी हाथ धोना पड़ा और उनका मॉडलिंग करिअर पूरी तरह से बर्बाद हो गया ।

एनसीडीआरसी से की शिकायत –

मॉडल की इस समस्या को ध्यान में रखते हुए एनसीडीआरसी के अध्यक्ष आरके अग्रवाल और सदस्य डॉ. एसएस कांतिकर और उनकी टीम ने होटल के सैलून पर मुआवजा ठोंका है उनका कहना है की उनकी गलती का ख़ामियाज़ा उस मॉडल को भोगना पड़ा है, जिसके चलते उसका शीर्ष मॉडल बनने का सपना टूट गया है।

साथ ही उन्होंने कहा की मॉडल का सपना टूटने और अपनी नौकरी से हाथ धोने के कारण वे इस वक्त काफी दुखी हैं और मानसिक एवं शारीरिक रूप से काफी परेशान हैं , इसलिए सैलून को उनके नुकसान की भरपाई और अपनी गलती का ख़ामियाज़ा भरना पड़ेगा। मुआवजे के तौर पर सैलून को 2 करोड़ रुपए भरने होंगे।

एनसीडीआरसी ने ये भी बताया है कि मॉडल और सैलून के कर्मचारियों के बीच जो व्हाट्सएप चैट हुई थी उससे ये पता चला है कि सैलून ने भी अपनी गलती मानी है और उसने मुफ्त में मॉडल के बाल उपचार की पेशकश भी की थी। इसके बाद अब आयोग ने होटल को मुआवजा देने का आदेश दिया है जिसके चलते सैलून को अपनी लापरवाही और गलती के लिए काफी बड़ी कीमत चुकानी पड़ रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button