वास्तु के अनुसार इस तरह जलाएं अगरबत्ती, सारी मनोकामनाएं होगी पूरी

अक्सर हम अपने घरों में देवी-देवताओं की पूजा के लिए धूपबत्ती जलाते हैं। धूनी यानि धूप का प्रयोग भारत में प्राचीन काल से भगवान को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है।

अक्सर हम अपने घरों में देवी-देवताओं की पूजा के लिए धूपबत्ती जलाते हैं। धूनी यानि धूप का प्रयोग भारत में प्राचीन काल से भगवान को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है। वास्तु के अनुसार अगरबत्ती को जलाने के भी नियम होते हैं। तो आइये जानते है अगरबत्ती जलाने के ये नियम।

1. मंदिर में अगरबत्ती को कभी भी जलते दिए से नहीं जलाना चाहिए। मान्यता है कि ऐसे करना पर आपके घर बीमारियों का घर बन सकता है।

2. अगरबत्ती को जलाने के बाद कभी भी फूंक मारकर अगरबत्ती को नहीं बुझाना चाहिए। पौराणिक मत के अनुसार ऐसा करने पर मां लक्ष्मी घर से चली जाती हैं।

3. घर में जब भी पूजा हो जाए तो अगरबत्ती के लिए अपनी जगह एक गोल चक्कर में लगाएं। जिससे परिवार में खुशहाली बनी रहती है।

4. शुक्रवार के दिन मां काली के मंदिर में जाकर मांता के आगे एक धूप जरूर जलाएं। इससे आपकी समस्या दूर हो सकती है।

5. नीम की पत्तियों की धूप को सप्ताह में एक बार जरूर जलाएं, इससे वास्तुदोष खत्म होगा और घर का वातावरण भी शांत होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button