मिट्टी के घड़े का पानी पीने से सांस की बीमारियों से आपको मिलेगा छुटकारा

शरीर को गर्मी से बचाने के लिये आप पानी का भरपूर सेवन करें। ऐसे में हम आपसे येही कहेंगे कि फ्रिज का पानी पीने की बजह आप मिट्टी के घड़े का पानी पिएं। जी हां, मिट्टी के घड़े का पानी स्‍वास्‍थ्‍य के लिये किसी अमृत से कम नहीं है।

मिट्टी के घड़े को गरीबों का फ्रिज भी कहते हैं। मिट्टी के घड़े का पानी पीना सेहत के लिए फायदेमंद है। इसका तापमान सामान्य से थोड़ा ही कम होता है जो ठंडक तो देता ही है, चयापचय या पाचन की क्रिया को बेहतर बनाने में मदद करता है। इसे पीने से शरीर में टेस्टोस्टेरॉन का स्तर भी बढ़ता है। आज हम आपको मटके का पानी पीने के यह बेशकीमती फायदे बताने जा रहे है

गले की तकलीफों के लिए मटके का पानी खांसी या सर्दी से पीड़ित लोगों के लिए एक आदर्श पेय है. गर्मियों के दौरान सांस की बीमारियों से पीड़ित लोगों के लिए यह सबसे अच्छा विकल्प है, क्योंकि फ्रिज का पानी पीने में ठंडा हो सकता है और प्लास्टिक की बोतलों में बाहर रखा पानी बहुत गर्म होता है. मिट्टी के मटके का पानी प्यास बुझाने के लिए मिट्टी के गुणों से भरपूर होता है.
मेटाबॉलिज्म में सुधार
मिट्टी के बर्तन में जमा पानी से शरीर की प्राकृतिक मेटाबॉलिज्म प्रणाली को बढ़ावा मिलता है. इसका कारण यह है कि यह पानी किसी भी प्रकार के रासायनिक घटकों के संपर्क में नहीं आता है.

हीलिंग गुण से भरपूर
मिट्टी के मटके में हीलिंग यानी उपचार के गुण होते हैं. ऐसा इसलिए है क्योंकि मिट्टी का इस्तेमाल विभिन्न प्रकार के खनिजों और विद्युत चुम्बकीय ऊर्जा में बर्तन बनाने के लिए किया जाता है. जब बर्तन में पानी भर जाता है और फिर पिया जाता है, तो लाभ शरीर में स्थानांतरित हो जाते हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button